GET MOTIVATIONAL INSPIRATIONAL AND LOVE STORIES, SHAYRIES, QUOTES AND BIOGRAPHIES. YOU CAN ALSO GET HERE APPLIED EDUCATION, USEFULL GENERAL INFORMATION, BUSINESS IDEAS, ONLINE JOBS, CAREER TIPS, HELTH TIPS, ROCHAK FACTS, SPORTS FACTS, TRAVELLING FACTS AND NEW TECHNOLOGIES DESCRIPTIONS.

हिंदी के सुप्रसिद्ध वेब पोर्टल हिन्दीशिखर डॉट कॉम पर आपका स्वागत हैं।

Please Choose Your Language in Which do You want to Read

Search Your Post

अनुशरण-एक आसान राह : Follow An Easy Way

गाँव में जब बरसात का मौसम आया और आषाढ़ माह की पहली बौछार हुई, तो उसने गाँव के सारे खेत गीले कर दिए।अगली सुबह गाँव के सारे लोग अपने-अपने हल-बैल लेकर अपने-अपने खेतों की जुताई करने लगे। जुताई के साथ कुछ रास्ते जो एक खेत से दुसरे खेत के लिए जाते थे, उनका आस्तित्व इस जुताई के साथ खत्म हो गया। जब में छोटा था, और अपने गाँव में था; मैं हर रोज सुबह-शाम अपनी बकरियों को चराने के लिए गाँव से दूर खेतो में जाया करता था। रास्ते में एक खेत की जुताई हो गई थी। जब में उससे गुजरता था तो मेरे पैर खेत की भुलभूलि मिट्टी में धस जाते थे, और मुझे खेत पार करने में बहुत दिक्कत होती थी। मेरे आलावा गाँव के बहुत सारे लोग उस खेत को पार करने में दिक्कत उठाते थे, परन्तु कोई भी उस खेत में मिट्टी रौद कर रास्ता बनाने के लिये तैयार नहीं था।
एक दिन जब मैं जुते हुए खेत से गुजर रहा था, मेरे मन में विचार आया क्यों न मैं ही रास्ता तैयार कर दूँ। शाम को मैंने अपने नन्हे-नन्हे पैरों से कूद-कूद कर मिट्टी को रौंद-कर, कई घंटो कि मेहनत के बाद आख़िरकार रास्ता तैयार कर दिया। मैंने अपने रास्ते को देखा तो वह बहुत टेड़ा-मेड़ा बना था। मैं निराश था, कि शायद मेरे बनाये रास्ते पर कोई भी नहीं चलेगा। अगली सुबह जब मैं अपनी बकरियों को साथ लेकर उस जुते हुए खेत के पास पंहुचा, मैं आश्चर्यचकित था, सारे लोग मेरे बनाये रास्ते से ही गुजर रहे थे। मैं उस समय और भी हैरान रह गया जब मेरी बकरिया भी मेरे बनाये रास्ते से ही गुजर कर गयी। लोग सीधे खेत पार करने की बजाय उस टेड़े-मेढ़े रास्ते पर चलना पसंद करते थे; क्योंकि रास्ते पर चलना जूते खेत में चलने से कहीं ज्यादा आसान था। कोई भी इंसान नया और सीधा रास्ता बनने के लिए तैयार नहीं था। सभी मेरे बनाये रास्ते का अनुसरण कर रहे थे।

जिंदगी उस दिन मुझे एक बड़ा सबक सीखा गयी क़ि

 """ लोग हमेशा अनुशरण करना पसंद करते है """

इतिहास गवाह है जब भी कोई बड़ा आंदोलन हुआ हो या और कोई सामाजिक परिवर्तन हुआ हो, इन सब की शुरुआत एक ही व्यक्ति ने की थी। परन्तु धीरे-धीरे उसके अनगिनत अनुशरण कर्ता हो गए।

आगर आप कुछ नया और अच्छा करना चाहते हो, तो कीजिये, यकीन मानियें ये सम्पूर्ण प्रकति आपके अनुशरण के लिए तैयार खड़ी है।

अगर आपको ये कहानी पसंद आई हो तो इसे लाइक और अपने सभी मित्रों व संबंधियों को शेयर करना न भूले।